home page

Aadhaar Card: आधार कार्ड में हर 10 साल में होंगे ये बड़े बदलाव, जानिए कैसे और क्या करना होगा?

आधार कार्ड में हर 10 साल में आधार कार्ड धारक को बायोमेट्रिक डेटा अपडेट करना होगा। अभी वर्तमान में केवल 5 और 15 वर्ष की आयु के बच्चों के आधार कार्ड में ही बायोमेट्रिक्स डेटा अपडेट किया जाता है। 
 |  | 1663326614658
file

Aadhaar Card: आधार कार्ड आज के समय में प्रयोग किया जाने वाला सबसे जरूरी डाक्यूमेंट्स है जिसकी जरूरत बैंक, स्कूल, कॉलेज, ऑफिस और किसी भी सरकारी काम के लिए होती है। आज हम आपको आधार कार्ड से जुड़ी जानकारी के बारे में बताने वाले है। दरअसल, आधार कार्ड जारी करने वाली संस्था यूआईडीएआई (UIDAI) अब आधार कार्ड में एक बड़ा बदलाव करने वाली है। जिसमें आधार कार्ड में हर 10 साल में आधार कार्ड धारक को बायोमेट्रिक डेटा अपडेट करना होगा। अभी वर्तमान में केवल 5 और 15 वर्ष की आयु के बच्चों के आधार कार्ड में ही बायोमेट्रिक्स डेटा अपडेट किया जाता है। 

यूआईडीएआई के एक अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में कहा है कि "लोगों को 10 साल में एक बार अपने बायोमेट्रिक्स, जनसांख्यिकी डाटा आदि को अपडेट करने के लिए कहा जाएगा। यह लोगों को आधार अपडेट करने के लिए प्रेरित करेगा। 70 साल की उम्र के बाद इसकी जरूरत नहीं होगी।"

हर व्यक्ति तक पहुंचे आधार 
भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने मेघालय, नागालैंड और लद्दाख को छोड़कर देश के लगभग सभी राज्यों के वयस्कों का आधार कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन किया है। आपको बता दें ,अभी मेघालय में चल रहे एनआरसी के (National Register of Citizens) मुद्दे के कारण आधार के लिए नामांकन देर से शुरू किया गया है,जबकि नागालैंड और लद्दाख में अभी भी कुछ दूरदराज के इलाकों को कवर नहीं किया गया है। 

घर बैठे मिलेंगी सुविधाएं
आपको बता दें वर्तमान में यूआईडीएआई के पूरे देश में लगभग 50,000 से भी ज्यादा नामांकन केंद्र हैं और बहुत जल्द ही यूआईडीएआई इस प्रोग्राम में 1.5 लाख डाकियों को भी जोड़ने जा रही है। वहीं ,इस प्रोग्राम के शुरुआत में ये डाकिए आधारकार्ड धारकों के मोबाइल नंबर और अड्रेस अपडेट करेंगे। जिससे घर बैठे लोगों को आधार रजिस्ट्रेशन जैसी सुविधाएं आसानी से  मिल जाएगी।

Tags