home page

Ration Card Update: राशनकार्ड धारकों के लिए आई बड़ी खबर, अब इन लोगों को नहीं मिलेगा राशन, लागू हुआ नया नियम

योगी सरकार के अनुसार अन्त्योदय और पात्र गृहस्थी राशन कार्ड धारकों का जल्‍द से जल्‍द वेर‍िफ‍िकेशन कराना होगा। वेरिफिकेशन के बाद राशन का लाभ ले रहे अपात्र लोगों का राशनकार्ड रद्द कर दिया जाएगा, जिसके बाद उन्हें राशन का लाभ नहीं मिलेगा।  
 
 
 |  | 1668528926000
file
Ration Card Latest News: अगर आप भी राशनकार्ड धारक है और सरकार की ओर से मिलने वाले फ्री राशन का लाभ ले रहे हैं, तो आपके लिए ये बड़ी खबर हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने राशनकार्ड धारकों को लेकर बड़ा आदेश दिया है। योगी सरकार के अनुसार अन्त्योदय और पात्र गृहस्थी राशन कार्ड धारकों का जल्‍द से जल्‍द वेर‍िफ‍िकेशन कराना होगा। वेरिफिकेशन के बाद राशन का लाभ ले रहे अपात्र लोगों का राशनकार्ड रद्द कर दिया जाएगा, जिसके बाद उन्हें राशन का लाभ नहीं मिलेगा।  
 
बदलती रहती है राशनकार्ड धारकों की जानकारी  
सरकार के वेरिफिकेशन को अनिवार्य करने वाले फैसले के बाद अब अपात्र राशनकार्ड रद्द हो जाएंगे, जिनकी जगह पर नए राशन कार्ड बनाये जाएंगे। उत्तर प्रदेश के फूड एंड सप्‍लाई कमि‍शनर मार्कडेय शाही (Markandey Shahi) ने प‍िछले द‍िनों सभी ज‍िलाध‍िकार‍ियों और ज‍िला आपूर्त‍ि अध‍िकार‍ियों को न‍िर्देश द‍िया है। अपर खाद्य आयुक्त अनिल कुमार दुबे का कहना है क‍ि राशनकार्ड लाभार्थ‍ियों की ओर से दी गई व्‍यक्‍त‍िगत जानकारी समय-समय पर बदलती रहती है।  
 
अपात्रों को लिस्ट से हटाना है जरूरी  
अपात्र लोगों को राशन की लिस्ट से निकलने के लिए सरकार की ओर से 'नेशनल फूड स‍िक्‍योर‍िटी एक्‍ट 2013' के तहत एक अभियान चलाया जाता है, जिसका मकसद अपात्र राशनकार्ड धारकों को राशन की लिस्ट से निकालना होता है और पात्र राशनकार्ड धारक सरकार की योजना का लाभ ले सकें।  
 
राशन कार्ड वेर‍िफ‍िकेशन  
समय-समय पर राशनकार्ड वेरिफिकेशन कराने का उद्देश्य है कि परिवार के सदस्यों की संख्या, आयु, निवास स्थान आदि की डिटेल को प्राप्त कर एक डाटाबेस तैयार किया जा सकें। अगर किसी राशनकार्ड धारक की मृत्यु हो गयी हो या उसकी आर्थिक स्थिति सुधर गयी हो तो ऐसे में वो पात्र लिस्ट में बाहर हो जाता है।  
 
1.42 करोड़ कार्ड किए रद्द  
आपको बता दें, सरकार ने पिछले दिनों संसद में दी गयी जानकारी के अनुसार बताया है कि 2017 से 2021 तक 2 करोड़ 41 लाख डुप्लीकेट, अपात्र और जाली राशनकार्ड रद्द किए जा चुके हैं। रद्द किए गए राशनकार्ड में सबसे ज्यादा 1.42 करोड़ राशनकार्ड उत्तर प्रदेश से ही हैं।
 

Tags