home page

Skin Diseases in winters: सर्दियों में बढ़ रही त्वचा की ये बीमारियां? डॉक्टर से जानिए बचाव के उपाय

 |  | 1673528201463
health

Skin Diseases in winters:  देश के कई इलाकों में सर्दी का प्रकोप जारी है। गिरते तापमान के कारण लोगों को कई तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है। ठंड के मौसम में चर्म रोग भी काफी बढ़ जाता है। इन सोरायसिस (सोरायसिस) और एक्जीमा में एक्जीमा की समस्या काफी देखी जाती है। इन दोनों बीमारियों के मरीजों की संख्या भी अस्पतालों में बढ़ रही है। त्वचा संबंधी ये रोग खतरनाक रूप भी ले सकते हैं। ऐसे में इनका बचाव करना बेहद जरूरी है।

सोरायसिस और एग्जिमा की बीमारी क्या है और इससे कैसे बचा जा सकता है। साथ ही इनके अलावा और कौन-कौन सी बीमारियां सर्दियों में बढ़ जाती हैं। इन सवालों को जानने के लिए हमने दिल्ली के डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल (आरएमएल) के त्वचा रोग विभाग से बात की। डॉक्टर भावुक रोगी के साथ बातचीत की है।

डॉ भावुक धीर कहते हैं कि सर्दियों में हवा में नमी की कमी, कम तापमान और प्रदूषण के कारण चर्म रोग बढ़ जाते हैं। गर्मियों की तुलना में इस समय तापमान और आर्द्रता बहुत कम होती है। जिसकी आदत से त्वचा को ज्यादा निखार नहीं आता है। इसकी वजह से कई तरह के स्किन डिसऑर्डर होने का खतरा होता है। इस समय एग्जिमा और सोराइसिस के मरीजों की परेशानी काफी बढ़ जाती है। इसके अलावा लोगों को त्वचा और बालों से जुड़ी और भी कई बीमारियां हो जाती हैं।

एक्जिमा और सोरायसिस की समस्या क्या है?

डा. भावुक धीर कहते हैं कि एक्जीमा के रोग को चर्मरोग भी कहते हैं। इस रोग में त्वचा पर लाल रंग के धब्बे पड़ जाते हैं। इनमें खुजली होती है। खुजली के कारण सूजन आ जाती है। वहीं, सोरायसिस की बीमारी होने पर शरीर में तेज खुजली होने लगती है। त्वचा में नमी की कमी के कारण त्वचा से सफेद पपड़ी भी निकलने लगती है। इन बीमारियों पर ध्यान न देने से यह पूरे शरीर में भी फैल सकता है। जिससे काफी नुकसान हो सकता है।

इनके अलावा और कौन सी बीमारियां बढ़ रही हैं

सर्दियों में लोगों को रूखी त्वचा, डैंड्रफ की वृद्धि, उंगलियों और पैर की उंगलियों का नीला पड़ना और बिवाई की समस्या का भी सामना करना पड़ता है। इनके अलावा एक और स्किन डिसऑर्डर है जो सर्दियों में तेजी से फैलता है। इसका नाम स्केबीज है, यह सर्दियों में साफ-सफाई की कमी, बार-बार नहाने और कपड़े धोने के कारण बढ़ जाता है। यह उंगलियों, बगलों पर खुजली के रूप में प्रकट होता है। यह रोग एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है और परिवार के अन्य सदस्यों को प्रभावित कर सकता है। इससे बचाव जरूरी है।

त्वचा की देखभाल कैसे करें

  • नहाने और हाथ धोने के लिए ज्यादा गर्म पानी से परहेज करें।
  • तापमान को थोड़ा और मध्यम रखने की कोशिश करें, शॉवर में ज्यादा देर तक न रहें।
  • हल्के साबुन का प्रयोग करें और सुगंध के बिना मॉइस्चराइज करें।
  • अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार सनस्क्रीन का उपयोग करना जारी रखें, खासकर यदि आपको मेलास्मा, ल्यूपस एरिथेमेटोसस जैसी स्थितियां हैं।

डैंड्रफ की समस्या से कैसे छुटकारा पाएं

बालों में तेल लगाने से बचें; स्कैल्प को नियमित रूप से धोएं और बालों को धोने के लिए सामान्य तापमान के पानी का उपयोग करें स्कैल्प को धोने के लिए सप्ताह में दो बार एंटी-डैंड्रफ शैम्पू का उपयोग करें (कम से कम 5 मिनट के लिए स्कैल्प पर शैम्पू लगाएं और फिर धो लें)

Tags