home page

Navratri Fasting Benefits: नवरात्रि में 9 दिन के उपवास रखने से शरीर को मिलते हैं क्या फायदे!

 |  | 1663854161450
Navratri Fasting Benefits

Navratri Fasting Benefits: श्राद्ध पक्ष खत्म होते ही मां दुर्गा के भक्त नवरात्रि व्रत की तैयारियों में जुट जाएंगे। इस बार शारदीय नवरात्रि के व्रत 26 सितंबर से शुरू होने वाले हैं। नवरात्रि में 9 दिनों तक देवी के अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है। इसके पीछे मान्यता है कि नवरात्रि में मां दुर्गा की पूजा अर्चना और व्रत रखने से भक्तों की मनोकामना जल्द पूरी होती है। लेकिन क्या आप जानते कि उपवास सिर्फ धर्म से ही नहीं बल्कि आपकी सेहत से भी जुड़ा हुआ है। चलिए बताते हैं आपको कि व्रत रखने से सेहत को मिलते हैं क्या-क्या फायदे और क्या है व्रत रखने का सही तरीका।
बॉडी होती है डिटॉक्सीफाई
Fast के दौरान अगर कोई भी इंसान Solid Food की जगह Liquid Food का सेवन करें तो उसकी बॉडी डिटॉक्सीफाई होगी। इतना ही नहीं इस तरह उपवास रखने से पाचन बेहतर होने के साथ पेट और त्वचा संबंधी समस्याएं भी कम परेशान करती हैं।

वेट लॉस में करता है मदद
Weight Lose करने के लिए Fasting एक अच्छा तरीका हो सकता है। इंटरमिटेंट फास्टिंग से बढ़ती चर्बी को कम करने में मदद मिल सकती है। इस तरह के फास्ट में Solid Food  की जगह Liquid  का सेवन किया जाता है।

त्वचा की बनाए रखे चमक
व्यक्ति के खान-पान का असर उसकी Skin पर साफ दिखाई देता है। तला-भूना मसालेदार भोजन त्वचा का निखार छीनकर कील-मुंहासे जैसी समस्याओं को पैदा कर सकता है। ऐसे में व्रत रखने से शरीर में मौजूद विषैले तत्व बाहर निकलते हैं और त्वचा की चमक वापस लौट आती है।

कोलेस्ट्रॉल कम करें
Fasting करने से Cholestrol का जोखिम भी कम हो सकता है। इससे ट्राइग्लरसाइड यानी एक प्रकार का वसा और खराब कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित हो सकता है।

उपवास करते समय रखें इन बातों का ध्यान
-एसिडिटी या गैस की समस्या है तो खाली पेट चाय या कॉफी पीने से बचें ।
-पहली बार व्रत रखने वाले लोग छोटे या कम समय के उपवास से शुरुआत करें।
-उपवास से पहले सही और पौष्टिक भोजन करें। 
-एक बार में ज्यादा खाने से बचें।
-व्रत खोलने के तुरंत बाद कुछ भी भारी आहार करने से बचें।

Tags