home page

Parenting Tips: बच्चों के अच्छे विकास के लिए जरूर कराएं ये योगाभ्यास, बचपन से ही बनाए आदत

 |  | 1663914601000
Parenting Tips

Parenting Tips: बेहतर समग्र स्वास्थ्य बनाए रखने में योग का अभ्यास करने की आदत आपके लिए सहायक मानी जाती है। विभिन्न प्रकार की शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) समस्याओं से पीड़ित लोगों को योग के नियमित अभ्यास से लाभ हुआ है। योग (Yoga) विशेषज्ञों का कहना है कि योग के नियमित अभ्यास की आदत बनाकर सभी उम्र के लोगों को स्वास्थ्य लाभ मिल सकता है, हालांकि अगर यह आदत बचपन से ही बना ली जाए तो यह न सिर्फ बीमारियों को कम करने में मददगार होती है, बल्कि जीवन में भी मदद करती है। . यह गुणवत्ता को बनाए रखने में भी मदद कर सकता है

बचपन से ही योग का अभ्यास करने की आदत बनाना मानसिक और शारीरिक विकास में तेजी लाने का सबसे कारगर तरीका हो सकता है। नियमित रूप से योग का अभ्यास करने वाले बच्चों में मोटापे की समस्या कम देखी गई है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए वजन को नियंत्रण में रखना बहुत जरूरी माना जाता है। कम उम्र से ही योग को दिनचर्या में शामिल करने से मानसिक स्वास्थ्य लाभ हो सकता है और बौद्धिक क्षमता में विकास को बढ़ावा मिल सकता है।

सर्वांगासन योग से मिलता है लाभ

सर्वांगासन योग

शोधकर्ताओं ने पाया कि सर्वांगासन योग के नियमित अभ्यास की आदत बनाना बच्चों को कई तरह के स्वास्थ्य लाभ देने में मददगार हो सकता है। इस योग के नियमित अभ्यास से हाथ-पैरों को मजबूत बनाने, रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाए रखने और मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह को बढ़ाकर मोटापे के जोखिम को कम करने और उसे पोषण देने में लाभ मिल सकता है। सर्वांगासन योग का अभ्यास बच्चों की बौद्धिक क्षमता को बढ़ाने का सबसे कारगर तरीका हो सकता है।

वृक्षासन योग से होने वाले स्वास्थ्य लाभ

वृक्षासन योग

वृक्षासन योग बच्चों के समग्र शारीरिक और मानसिक विकास में कारगर माना जाता है। हाथों और पैरों को टोन करने के साथ-साथ यह आसन पीठ को मजबूत बनाने में मदद करता है। कम हाइट की समस्या को दूर करने में इस योग का अभ्यास फायदेमंद हो सकता है। वृक्षासन योग एकाग्रता शक्ति और ध्यान को बढ़ाने के साथ-साथ मन-शरीर के संतुलन को बेहतर बनाने में मदद करता है। बच्चों को नियमित रूप से इस योग का अभ्यास करना चाहिए।

सूर्य नमस्कार योग से होने वाले लाभ

सूर्य नमस्कार

सूर्य नमस्कार को कई अत्यधिक प्रभावी योग आसनों का एक संयोजन माना जाता है जो माना जाता है कि तंत्रिका तंत्र को आराम देने, रक्त परिसंचरण को बढ़ाने और मांसपेशियों की ताकत बनाने में मदद करते हैं। पीठ की मांसपेशियों को मजबूत करने, शारीरिक लचीलेपन को बढ़ाने और याददाश्त में सुधार के लिए इस योग का अभ्यास करना फायदेमंद माना जाता है। हर दिन सूर्य नमस्कार के विभिन्न आसनों का अभ्यास करने की आदत बनाना बच्चों के समग्र विकास और पोषण के लिए सहायक होता है।

Tags