home page

Skin Care: अगर चेहरे पर हो रहे हैं इस तरह के दाने, तो पिंपल समझने की ना करें गलती

 |  | 1663237121096
Skin Problem

Skin Care Tips: कई लोग चेहरे पर पिंपल निकलने की समस्या से परेशान रहते हैं, हालांकि चेहरे पर उभरने वाला हर दाना ऐक्ने या पिंपल नहीं होता। कई बार हम इसे ignore  करते रहते हैं लेकिन अगर आपके चेहरे पर भी लंबे वक्त से दाने निकल रहे हैं तो आपको तुरंत अलर्ट हो जाना चाहिए। क्योंकि ये किसी बीमारी का लक्षण भी हो सकता है। वैसे तो आमतौर पर भारत में Weather, Pollution और Diet की वजह से करोड़ों लोग Skin Problems से परेशान रहते हैं। इनमें एक्ने सबसे आम समस्या है। हार्मोनल बदलाव और ज्यादा तेल-मसाले वाला खाना खाने की वजह से चेहरे पर ऐक्ने या पिंपल होना आम बात है। लेकिन कई मामलों में ऐसा किसी गंभीर बीमारी की वजह से भी हो सकता है। दाने चिकनपॉक्स, मंकीपॉक्स के अलावा मिलिया और रोसैशिया जैसी बीमारियों की वजह से भी हो सकता है। 

                                           Skin care Tips Follow these tips to avoid face and skin pimples pimple se  bachne ka upay brmp | face को हमेशा साफ-सुधरा रखना है तो 5 गलतियां कभी न  करें, आपको

मिलिया,आंखों के आसपास होने वाले पीले रंग के दाने

आपकी आंखों के आसपास पीले, उभरने वाले बेहद छोटे दाने मिलिया नाम की Skin Condition की वजह से हो सकते हैं। मिलिया चेहरे पर व्हाइटहेड्स की तरह दिखते हैं लेकिन वास्तव में ये छोटे केराटिन सिस्ट होते हैं जो पोर में बनते हैं। ये स्किन के नीचे पनपते हैं और महीनों तक रह सकते हैं। हालांकि इससे कोई नुकसान नहीं है लेकिन चेहरे की सुंदरता को खराब करते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए आपको डर्मेटोलॉजिस्ट के पास जाना पड़ सकता है।

रोसैशिया, चेहरे पर होने वाले लाल धब्बे 

कई बार हम स्किन पर होने वाली रेडनेस और लाल रंग के छोटे-छोटे दानों को भी लोग पिंपल समझने की भूल कर बैठते हैं। ये लंबे समय तक रहने वाली Skin Condition जो सामान्य तौर पर 30 साल से ऊपर की उम्र की महिलाओं को होती है। ऐसे लोगों की स्किन काफी Sensitive हो जाती है। इसलिए इस स्थिति से निपटने के लिए त्वचा विशेषज्ञ के पास जाना चाहिए।

मुंह के आसपास लाल दाने

पेरीओरिफिशियल डार्माटाइटिस एक स्किन कंडीशन है जिसमें चेहरे पर छोटे, खुजली और दर्द करने वाले दाने उभर आते हैं। ये परेशानी मुंह के आसपास और चेहरे के निचले हिस्से में होती है इसलिए इसे पेरिओरल डर्मेटाइटिस कहा जाता है। ये स्टेरॉयड स्प्रे, कुछ तरह के टूथपेस्ट और हेवी फेस मॉइस्चराइज़र से भी हो सकता है। अगर आपको स्टेरॉयड, टूथपेस्ट या किसी क्रीम की वजह से ये परेशानी हुई है तो इनका इस्तेमाल बंद कर देने के बाद ये अपने-आप ठीक हो जाती है।

एलर्जी

कई बार कुछ Products  स्किन के रोम  छिद्रों को बंद कर देते हैं जिससे मुँहासे पैदा होते हैं। लेकिन कई बार किसी तरह की दवा लेने पर भी दाने या चकत्ते पड़ जाते हैं जो मुँहासे की तरह दिखते हैं। इसमें कई बार खुजली और हल्का दर्द भी हो सकता है। सेंसिटिव स्किन और जल्दी-जल्दी एलर्जी का शिकार होने वाले लोगों को मेकअप, केमिकल और खुशबू वाले स्किन प्रॉ़क्ट्स का इस्तेमाल करने  से बचना चाहिए। 

Tags