home page

T20 World Cup : रवि बिश्नोई पर कैसे भारी पड़ गए आर. अश्विन, यहां समझें इंडियन टीम के सिलेक्शन की बारीकियां

 |  | 1663575846864
T20 WORLD CUP

T20  World Cup: एशिया कप 2022 में मैदान से बाहर बैठने वाले अश्विन टी-20 वर्ल्ड कप स्क्वॉड में शामिल किए गए हैं। 16 अक्टूबर सेटूर्नामेंट शुरू हो रहा है जिसमें भारत 15 प्लेयर्स के साथ जा रहा है। दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर कई प्लेयर्स के नाम को लेकर बहस छिड़ी हुई है। इस लिस्ट में अश्विन भी शामिल हैं। लेग स्पिनर रवि बिश्नोई की जगह ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को जगह मिलने पर फैंस के सवाल की बौछार हो रही है। फैंस पूछ रहे हैं कि 22 साल के लड़के की जगह 35 साल के आदमी को टीम में क्यों रखा?

कैसे जीत गए अश्विन

  • अश्विन ने भारत के लिए 56 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं।
  • रवि बिश्नोई के पास सिर्फ 10 मैच का अनुभव है।
  • अश्विन ने जून 2010 में जिम्बाब्वे के खिलाफ पहला मैच खेला था।
  • अश्विन 2012, 2014, 2016 और 2021 टी-20 वर्ल्ड कप में भी खेल चुके हैं।

मतलब साफ है कि दुनिया की हर पिच पर अलग-अलग हालातों में अश्विन को खेलने का अनुभव है। प्रेशर वाले हालातों में गेम चलाना जानते हैं। इसलिए ऑस्ट्रेलियाई पिचों में अश्विन भारतीय टीम के काफी काम आ सकते हैं। इस तरह अनुभव की रेस में ये खिलाड़ी जीत गया। 

Ravi Bishnoi, the right man for the wrong 'un | Cricket - Hindustan Times

​ऑफ स्पिन के महारथी भी हैं

वैसे तो टीम में युजवेंद्र चहल एक बेहतरीन Leg Break Bowler है। लेकिन उम्मीद है कि अश्विन अपनी ऑफ ब्रेक से न सिर्फ वैराइटी देंगे बल्कि विरोधी बल्लेबाजों को रिदम और क्रीज पर सेट भी नहीं होने देंगे।

  • अश्विन Different बॉलिंग के लिए भी पहचाने जाते हैं।
  • एक ओवर में 6 गेदें अलग-अलग तरीके से फेंक सकते हैं।
  • कैरम बॉल भी फेंकते रहते हैं।
  • रोहित शर्मा, रनरेट धीमा करने के लिए अश्विन को बतौर डिफेंसिव बॉलर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • अश्विन एक टाइट इकॉनमी स्पिनर हैं।

वहीं देखा जाए तो चहल एक विकेटटेकर बॉलर हैं,  विकेट निकालना जानते हैं।इन दोनों की जोड़ी से वर्ल़्ड कप में भारत को काफी उम्मीदें हैं। 

R Ashwin on ODIs: 'I switch off the telly after a point of time'

T20 World Cup Playing 11

रोहित शर्मा (कप्तान), लोकेश राहुल (उप-कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, रविचंद्रन अश्विन, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, अर्शदीप सिंह।

स्टैंड-बाय खिलाड़ी - मोहम्मद शमी, श्रेयस अय्यर, रवि बिश्नोई, दीपक चाहर।

और पढ़िए  –

ऑटो से जुड़ी खबरें यहाँ  पढ़ें

फोटो गैलरी  से जुड़ी खबरें यहाँ  पढ़ें

लाइफस्टाइल  से जुड़ी खबरें यहाँ  पढ़ें

 

Tags