home page

Wrestlers Protest: पहलवानों के प्रदर्शन के बीच हुई IOA पीटी उषा, स्पेशल कमेटी बनाने के लेकर हुई बात

 |  | 1674196335498
PT Usha

Wrestlers Protest: पिछले दो दिनों से भारतीय पहलवानों का धरना-प्रदर्शन जारी है जिसे लेकर खेलमंत्री से लेकर तमाम हस्तियों के बयान सामने आ रहे हैं और अब इसी कड़ी में भारतीय ओलंपिक संघ की अध्यक्ष पीटी उषा ने भी पहलवानों को न्याय दिलाने का वादा कर दिया है। पीटी उषा का कहना है कि आईओए ने इसके लिए एक विशेष समिति गठित करने का फैसला किया है और साथ ही प्रदर्शनकारी पहलवानों को न्याय दिलाने का आश्वासन देते हुए पूरी जांच सुनिश्चित की जाएगी।

गौरतलब है कि शीर्ष पहलवानों और डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष बृज भूषण शरण सिंह के बीच चल रहे विवाद के बीच पीटी उषा ने ट्विटर के जरिए कहा कि एथलीटों की भलाई आईओए की सर्वोच्च प्राथमिकता है।

मौजूदा मामले पर बोलीं पीटी उषा

पहलवानों के धरने को लेकर पीटी उषा ने ट्वीट किया, आईओए अध्यक्ष के रूप में मैं सदस्यों के साथ पहलवानों के मौजूदा मामले पर चर्चा कर रही हूं। हम सभी के लिए एथलीटों का कल्याण और भलाई आईओए की सर्वोच्च प्राथमिकता है। हम एथलीटों से अनुरोध करते हैं कि वे आगे आएं और अपनी चिंताओं को आवाज दें। पीटी उषा ने ही इस बात की पुष्टी की है कि भविष्य में ऐसी स्थिति उत्पन्न ना हो तो इसके लिए एक विशेष समिति का गठन किये जाने को लेकर चर्चा है जो तेजी से कार्रवाई के लिए तैयार हो।

जंतर-मंतर पर प्रदर्शन जारी

आपको बता दें कि तीन बार की सीडब्ल्यूजी चैंपियन विनेश फोगट और बजरंग पुनिया और साक्षी मलिक की ओलंपिक कांस्य पदक विजेता जोड़ी समेत टॉप भारतीय पहलवान दूसरे दिन भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के प्रमुख बृज भूषण शरण के खिलाफ जंतर-मंतर पर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। गौरतलब है कि सिंह पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगे हैं। जिसे लेकर विनेश फोगट का कहना है कि भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह और महिला पहलवानों द्वारा नामजद किए गए कोचों के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों पर अगर सरकार कार्रवाई नहीं करती है तो FIR दर्ज करवाई जाएगी।

खेल मंत्री ने 72 घंटे में मांगा जवाब

आपको बता दें कि बजरंग, अंशु मलिक, साक्षी और विनेश चाहते हैं कि WFI को भंग कर दिया जाए और एक नया महासंघ बनाया जाए। बजरंग, विनेश, सरिता मोर, अंशु मलिक समेत पहलवानों को खेल सचिव सुजाता चतुर्वेदी के साथ बैठक के लिए बुलाया गया था और इस दौरान विनेश ने दावा किया था कि डब्ल्यूएफआई प्रमुख कई वर्षों से महिला पहलवानों का यौन शोषण कर रहे थे। हालांकि इन आरोपों का भाजपा सांसद ने साफतौर से खंडन किया है।

Tags