home page

MMS Viral Video: इंसानियत की हदे पार, पंजाब यूनिवर्सिटी में एक महिला छात्रा ने 60 से ज्यादा लड़कियों के आपत्तिजनक वीडियो किया वायरल, कैंपस में हाई लेवल ड्रामा

 |  | 1663574344352
Viral

MMS Viral Video: Punjab  के मोहाली यूनिवर्सिटी (Mohali University)  (CU) में पढ़ने वाली 60 से ज्यादा छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो वायरल होने का संगीन मामला सामने आया है। वायरल हुए वीडियो से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि ये वीडियो उस दौरान का है जब लड़कियां नहाती थी। वो कहते है न एक औरत की सबसे बड़ी दुश्मन एक औरत ही होती है , इस कहावत को इस लड़की ने सच साबित कर दिया। यह युवती कोई और नहीं बल्कि उसी कॉलेज में पढ़ने वाली छात्रा है, वे लड़की उन वीडियो को अपने दोस्त को भेजती थी। नहाने का वीडियो वायरल करने वाले आरोपी युवक सन्नी को हिमाचल पुलिस ने शिमला से गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले पंजाब पुलिस ने वीडियो बनाने वाली लड़की को गिरफ्तार किया था। दोनों आरोपी शिमला के रोहड़ू के रहने वाले हैं और एक-दूसरे को बहुत पहले से जानते हैं।

हिमाचल पुलिस के DGP संजय कुंडू ने बताया कि युवक को गिरफ्तार कर लिया है। आज रात ही उसे पंजाब पुलिस के सुपुर्द कर दिया जाएगा। इधर, मामले में यूनिवर्सिटी प्रशासन और पुलिस के रवैये से नाराज CU के सैकड़ों स्टूडेंट्स ने कैंपस में फिर से प्रदर्शन किया।

 

Punjab  के मोहाली यूनिवर्सिटी (Mohali University) में छात्राओं का प्रदर्शन जारी है। पुलिस, यूनिवर्सिटी और महिला आयोग जहां एक तरफ MMS बनाने और सुसाइड से इनकार कर रही है, तो वहीं दूसरी तरफ छात्राओं का आरोप है कि अश्लील वीडियो बनाकर वायरल किया गया है।

मोहाली में चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के बाहर छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं, गर्ल्स हॉस्टल में छात्राओं के MMS बनाने की घटना के खुलासे के बाद जारी हंगामे को देखते हुए चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी ने 19 और 20 सितंबर को छात्रों के लिए विश्वविद्यालय बंद कर दिया है।

क्या है पूरा मामला 

पंजाब के मोहाली स्थित चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में लड़कियों के आपत्तिजनक वीडियो को लेकर बड़ा विवाद हो गया है। दरअसल, विवि की एक छात्रा पर आरोप है कि उसने हॉस्टल की 60 छात्राओं के नहाते हुए वीडियो बना लिए और उन्हें अपने पुरुष दोस्त (हिमाचल प्रदेश के शिमला में) को भेजा।

उसके कथित बॉयफ्रेंड ने उन क्लिप्स को वायरल कर दिया, जिसके बाद मामला काफी गर्मा गया। शनिवार (17 सितंबर, 2022) रात वहां कैंपस में स्टूडेंट्स ने इस मसले को लेकर विरोध प्रदर्शन भी किया।

हालांकि, विश्वविधालय ने वायरल वीडियो की बात को गलत बताया है और उससे साफ इन्कार कर दिया। प्रबंधन ने कहा कि लड़की ने खुद की क्लिप बनाई। पर बाकी छात्राओं के वीडियो नहीं बनाए। न ही कैंपस में किसी ने आत्महत्या का प्रयास किया।

और पढ़िए  –

 हेल्थ से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

 बिजनेस से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

 

Tags